Latest News

16 Jul 2018

आईपीएस अमिताभ ठाकुर को म‍िली धमकी के एक साल बाद भी आरोपी को ट्रेस नहीं कर सकी पुलिस : लखनऊ


लखनऊ। आईपीएस अमिताभ ठाकुर को एसएमएस के जरिए धमकी दिए जाने के मामले में पुलिस ने फाइनल रिपोर्ट लगा दी है। पुलिस का कहना है कि जिस मोबाइल नम्बर से धमकी दी गई थी, वह ट्रैक नहीं हो सका। आईपीएस अमिताभ ठाकुर के मोबाइल पर 26 जून 2017 को कई ब्लैंक कॉल की गईं थीं। इसके बाद उन्हें धमकी भरे एसएमएस भी भेजे गए थे। इस संबंध में उन्होंने पुलिस से शिकायत की थी। उन्होंने आईपीसी की धारा 504, 507 व 67 आईटी एक्ट के तहत गोमतीनगर थाने में रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। 
ब्लैंक कॉल करने वाले और एसएमएस भेजने वाले का नम्बर भी दिया था। एक साल से अधिक समय बीत जाने के बावजूद गोमतीनगर पुलिस धमकी देने वाले तक नहीं पहुंच सकी। पुलिस ने शनिवार को इस मामले में फाइनल रिपोर्ट लगा दी। आईपीएस अमिताभ ठाकुर की पत्नी डॉ. नूतन ठाकुर का कहना है कि पुलिस ने किस आधार पर फाइनल रिपोर्ट लगाई, अभी उन्हें पता नहीं है। कोर्ट में एफआर की कॉपी देखने के बाद ही वह आगे कोई कदम उठाएंगी। गोमतीनगर थाना प्रभारी देवी प्रसाद तिवारी का कहना है कि भविष्य में कोई सुराग हाथ लगेगा तो उस आधार पर कार्रवाई की जाएगी। 

No comments:

Post a Comment