Latest News

21 Jun 2018

ए.टी. एम. फ्राड गैंग के दो सक्रीय सदस्यों को पुलिस ने किया गिरफ्तार : फतेहपुर


अमित कुमार सिंह,(फतेहपुर)। उत्तर प्रदेश फतेहपुर जिले में एक लम्बे समय से ए.टी. एम. को हेंक करके पैसा निकालने की सूचनाएं पुलिस के लिए किसी सर दर्द से कम नहीं थी । पुलिस शातिरों की तलाश में कई बार ए.टी. एम.में छापा मारी की मगर शातिर हर बार बच निकलते थे । पुलिस ने चुनौती स्वीकार करते हुए चारो तरफ अपना मकड़ जाल बिछा दिया जैसे ही पुलिस को सुचना मिली की दो ब्यक्ति एस बी आई की मुख्य शाखा ए.टी. एम.बूथ के सामने अर्ध रात्रि को मौजूद हैं। पुलिस ने बिना देर किये छापा मारकर दोनों ब्यक्तियो को गिरफ्तार कर लिया। जब उनकी तलाशी ली गयी और पूछ ताछ की गयी तो पुलिस के होस उड़ गए। यह शातिर दीपक यादव जो की करबिगवा गाँव  थाना नर्वल जिला  कानपुर  निवासी और दूसरा देशराज विश्वकर्मा बलीपुर गाँव थाना गाजीपुर फतेहपुर का निवासी  हैं। इन लोगो के पास से पुलिस ने 26 अदद ए.टी. एम.  कार्ड जिसमे 12  ए.टी. एम.कार्ड एस बी आई बैंक के ,8ए.टी. एम. कार्ड बैंक आफ बड़ोदा ,6 ए.टी. एम.कार्ड पंजाब  नेशनल बैंक के जो अलग अलग नामो के साथ साथ 55000 हज़ार नगद रुपए और तीन अदद मोबाइल, एक चेन,एक अपाचें  मोटर साइकिल बरामद किया। यह शातिर घटना को जिस तरह अंजाम देते थे। खुद पुलिस हैरान रह गयी। यह शातिर किसी भी बैंक के  ए.टी. एम. कार्ड को ए.टी. एम. मशीन में डालकर पैसा निकालते थे। जैसे ही पैसाए.टी. एम.मशीन से बाहर आता था। ऊपर व् नीचे की नोटों को छोड़ कर बीच की नोटों को खींच लिया करते थे। जिस कारण ए.टी. एम. बूथ पर ट्रांजिक्शन इन्कम्प्लीट बताता था । इसके बाद अभियुक्तों के द्वारा टोल फ्री नम्बर पर ट्रांजिक्शन फेल /इन्कम्प्लीट होने की शिकायत दर्ज कराई जाती थी। जिस पर बैंक के द्वारा उसीए.टी. एम. कार्ड के खाते में पूरा पैसा वापस कर  दिया जाता था। इस प्रकार ए.टी. एम. हेंक  करके धोखाधड़ी व् तकनिकी का दुरुपयोग करके राष्ट्रीयकृत बैंको को चुना लगाकर धन राशि को निकाल लिया करते थे। काफी लम्बे समय से यह कार्य कर रहे थे। जिसमे लाखो रुपए का चुना अब तक बैंको को लगा चुके हैं यह शातिर।

No comments:

Post a Comment