Latest News

22 May 2018

एसईसीएल कालरी मैनेजर की संदिग्ध परिस्थितियों में छत से गिरकर हुई मौत : अनूपपुर


सुमिता शर्मा,(अनूपपुर)। बदरा जमुना कोल इंडिया की सहायक कंपनी एसईसीएल के जमुना कोतमा क्षेत्र के उपक्षेत्र बदरा 7/8 खदान में मैनेजर के पद पर कार्यरत राहुल खरे की गत दिनों उन्हीं के छत पर से गिर जाने के कारण मौत हो जाने की खबर से पूरे जमुना कोतमा क्षेत्र में गम का माहौल है। प्राप्त जानकारी के अनुसार राहुल खरे पिता शिव शंकर उम्र 56 वर्ष निवासी जमुना कालरी जो कि बदरा खदान 7/8 में मैनेजर के पद पर कार्यरत थे वह दिनांक 19 मई 2018 की रात्रि करीब 12:00 बजे अपने ही निवास स्थान जमुना कालरी जो की भी टी सेंटर के बगल में  सी टाइप क्वार्टर नंबर 6 / 8 में  रहते थे और यह रात 12:00 बजे छत से नीचे गिर गए जिसकी सूचना उन्हीं के घर के सामने रह रहे होटल संचालक अशोक व एक अन्य व्यक्ति द्वारा पुलिस हंड्रेड डायल को सूचना देकर बुलाया और हंड्रेड डायल ने मौके पर पहुंचकर राहुल खरे मैनेजर साहब को घायल अवस्था में क्षेत्रीय चिकित्सालय कोतमा कालरी पहुंचाया जहां पर उनकी हालत नाजुक होने के कारण उन्हें मनेंद्रगढ़  हॉस्पिटल में रेफर कर दिया गया जबकि जानकारों का कहना है कि जब उनकी हालत गंभीर थी तो उन्हें सीधे अपोलो बिलासपुर रेफर क्यों नहीं किया गया यह जांच का विषय है और मनेंद्रगढ़ पहुंचने के बाद राहुल खरे की मृत्यु हो गई। छत से गिरने के कारण उनकी सीने की पसली टूट गई थी और कई जगह गंभीर चोट थी। इसके बाद सव का PM पंचनामा कर आज दिनांक 21 मई 2018 को दिन में 12:00 बजे उनके पार्थिक शरीर को उनके गृह ग्राम सतना के लिए ले जाया गया बताया जाता है। कि मैनेजर राहुल खरे जमुना कालरी में अपने क्वार्टर पर अकेले ही रहते थे और उनकी पत्नी इंदौर में रहती हैं जोकि प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं और दो बच्चे एक लड़का एक लड़की दिल्ली में सर्विस कर रहे हैं अब पुलिस की जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि राहुल खरे की मौत की असली वजह क्या है इनकी मौत से जमुना कोतमा क्षेत्र में दुख की लहर है वही क्षेत्र के महाप्रबंधक एके पांडे श्रम संघ प्रतिनिधि कालरी अधिकारियों वह आमजन ने गहरा दुख प्रकट किया है।

No comments:

Post a Comment