Latest News



WELCOME TO - 24X7 SAMVAD INDIA NEWS
Photo
Video News

Gallery

Video

Games

Recent Posts

15 Dec 2017

भाजपा करेगी युवाओं के सपने साकार : मनोज तिवारी

बाहरी दिल्ली। यमुना चैलेंज ट्रॉफी क्रिकेट प्रतियोगिता के 17 वें दिन खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाने के लिए भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष मनोज तिवारी रोहिणी खेल परिसर पहुंचे।उन्होंने कहा कि दिल्ली का हर युवा अपने लक्ष्य का सपना देखे और सपने को साकार करने में भारतीय जनता पार्टी उसकी हमसफर बनेगी। यमुना चैलेंज ट्रॉफी क्रिकेट प्रतियोगिता युवाओं के मन में बसती जा रही है और बड़ी संख्या में युवा भाजपा की ओर रुख कर रहे हैं। भाजपा ने यह संकल्प लिया है कि बेहतर सुविधा और साधनों के अभाव में अब कोई भी खेल प्रतिभा घर नहीं बैठेगी। उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता के जरिए खेल खेल में जहां प्रतिभाओं को निखारा जा रहा है वहीं युवाओं के बीच संगठन भी मजबूती पकड़ रहा है। उन्होंने खिलाड़ियों के साथ क्रिकेट भी खेला। इस मौके पर उत्तर पश्चिमी दिल्ली के सांसद उदित राज, जिलाध्यक्ष नील दमन खत्री भी मौजूद थे।बृहस्पतिवार हुए मैचों में किराड़ी की टीम ने टॉस जीता और प्रेम नगर को बल्लेबाजी करने का न्योता दिया। प्रेम नगर की टीम 12.3 ओवर में 44 रन बनाकर पवेलियन लौट गई और किराड़ी के सामने 45 रनों का लक्ष्य रखा। जवाब में किराड़ी की टीम ने 6.6 ओवर में 1 विकेट खोकर 47 रन बनाकर यह मैच जीत लिया।दूसरे मैच में रोहिणी ए की टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 127 रन बनाए और रोहिणी आई की टीम के सामने 128 रनों का लक्ष्य रखा। जवाब में रोहिणी आइ की पूरी टीम निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 119 रन ही बना सकी।इस अवसर पर खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाने के लिए प्रदेश ओबीसी मोर्चा के प्रभारी विनोद सहरावत, जिला प्रभारी राजेश गहलोत मीडिया विभाग के सह संयोजक आनंद त्रिवेदी, पूर्व विधायक मनोज शौकीन आदि भी मौजूद रहे।

14 Dec 2017

अमरनाथ में जयकारा-मंत्रोच्चार रोक पर NGT की सफाई : स्पष्टीकरण

जम्मू। नैशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल (एनजीटी) ने अमरनाथ मामले में स्पष्टीकरण जारी किया है। अमरनाथ को लेकर जयकारे और मंत्रोच्चार पर रोक के चलते बीजेपी के विरोध के बाद एनजीटी ने स्पष्ट किया कि अमरनाथ में कोई साइलंट ज़ोन नहीं घोषित किया गया है।एनजीटी ने स्प्ष्टीकरण जारी कर कहा, 'अमरनाथ में कोई साइलंट ज़ोन घोषित नहीं किया गया है। भक्तों को केवल शिवलिंग के सामने शांति बनाए रखने को कहा गया है। यह गुफा के दूसरे किसी हिस्से में लागू नहीं होगा। इसी तरह वन-वे पंक्ति को बनाए रखा जाएगा।'एनजीटी ने कहा, 'ये निर्देश गुफा की पवित्रता बनाए रखने और शोर का शिवलिंग पर कोई प्रतिकूल प्रभाव न हो, इसे सुनिश्चित करने के लिए हैं। आरती और अन्य अनुष्ठानों पर यह नियम लागू नहीं होगा।'बता दें कि एक दिन पहले बुधवार को ही एनजीटी ने अमरनाथ यात्रा पर जयकारे लगाने और मंत्रों के उच्चारण पर रोक लगाने का आदेश दिया था। एनजीटी ने अमरनाथ को साइलंस जोन घोषित करने का आदेश देते हुए कहा था कि यह इलाका पर्यावरण की दृष्टि से बेहद संवेदनशील है। इस बीच इस पर विवाद भी तेज हो गया था और केंद्र की सरकार पर काबिज बीजेपी ने इसे ऐंटी-हिंदू अजेंडा करार दिया था।एनजीटी ने अमरनाथ श्राइन बोर्ड को आदेश देते हुए कहा था कि अमरनाथ में घंटियां नहीं बजनी चाहिए। इसके अलावा यात्रियों को मोबाइल फोन और अन्य सामान ले जाने की भी अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

राजसमंद हत्याकांड आरोपी के समर्थन में सड़कों पर भीड़ : राजस्थान

उदयपुर। देश भर को हिला कर रख देने वाले राजसमंद निर्मम हत्याकांड के कई दिन बाद स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बनी हुई है। लव जिहाद के नाम पर की गई पश्चिम बंगाल के एक मुस्लिम मजदूर की हत्या के आरोपी शंभूलाल + की गिरफ्तारी के खिलाफ गुरुवार को प्रदर्शन किए गए। इस दौरान भीड़ और पुलिस के बीच झड़प में कई लोगों सहित 12 पुलिसवाले घायल हो गए। शाम तक शहर में तनाव बना रहा।पुलिस ने बताया कि 175 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और कई अन्य को नुकसान पहुंचाने और आदेशों का पालन न करने के लिए हिरासत में लिया गया है। प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने जबरन दुकानें और संस्थान बंद कराए। सड़कों पर बेकाबू भीड़ ने पत्थरबाजी की और टायर भी जला दिए। पुलिस को कई जगहों पर लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा और अतिरिक्त बल भी बुलाना पड़ा।उदयपुर रेंज के आईजी आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि एएसपी (सिटी) सहित 12 पुलिसवाले पत्थर लगने से घायल हो गए। उन्होंने बताया कि 175 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
भगवा पट्टे लगाए युवाओं की भीड़ नारे लगाते हुए इमारतों के ऊपर चढ़ पत्थरबाजी करती रही। पुलिस ने बताया कि दोपहर करीब 1:30 बजे से शुरू हुआ हिंसा का माहौल शाम तक जारी रहा। इंटरनेट सेवा पर रोक लगाने के बावजूद प्रशासन लोगों को शहर में अलग-अलग स्थानों पर जमा होने से नहीं रोक सका।सोशल मीडिया पर राजसमंद में लव जिहाद के नाम पर हत्या कर शव जलाने का विडियो + वायरल हुआ था। विडियो में हत्या करते दिख रहे शख्स शंभूलाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले ने राजस्थान के साथ-साथ पूरे देश में सनसनी फैला दी थी।

रेप पीड़ित महिलाओं को बंदूक लाइसेंस देने की तैयारी में सरकार : मध्य प्रदेश

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार के महिला और बाल विकास विभाग ने दुष्कर्म पीड़ित महिलाओं को बंदूक का लाइसेंस देने का प्रस्ताव रखा है। विभाग की मंत्री अर्चना चिटनीस का तर्क है कि इससे महिलाओं का मनोबल बढ़ेगा और उनमें आत्मविश्वास जगेगा।विभाग की तरफ से जारी इस प्रस्ताव में कहा गया है कि वैसे तो इस लाइसेंस के लिए सभी महिलाएं पात्र होंगी लेकिन दुष्कर्म पीड़ित महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी।विभाग का यह भी कहना है कि हर समय महिलाओं को सुरक्षा दे पाना संभव नहीं हो पाता। ऐसे में अगर उनके पास अपना हथियार होगा तो वे खुद को ज्यादा सुरक्षित महसूस करेंगी।विभाग ने यह भी तर्क दिया है कि कई बार आरोपी जमानत पर रिहा होने के बाद दुष्कर्म पीड़िताओं को धमकाते हैं। ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए जरूरी है कि इन महिलाओं को सशक्त बनाया जाए। ऐसे में इन्हें बंदूक का लाइसेंस देना जरूरी है।इस पर प्रतिक्रिया देते हुए विभाग की मंत्री अर्चना चिटनीस ने कहा, 'मेरी सिफारिश यह है कि अगर कोई महिला हथियार के लाइसेंस के लिए आवेदन करती है, तो विलंब के उसे यह उपलब्ध होना चाहिए। मुझे लगता है कि इससे महिला का आत्मविश्वास बढ़ेगा और वह खुद को अधिक सुरक्षित महसूस करेगी।'

विधानसभा के शीतकालीन सत्र में आजम-योगी हाथ थामे साथ पहुंचे : राजनीति

लखनऊ। यूपी विधानसभा के शीतकालीन सत्र की शुरुआत के मौके पर गुरुवार को सीएम योगी आदित्यनाथ और सपा विधायक आजम खां एक-दूसरे का हाथ थामकर पहुंचे। हालांकि यह दोस्ती सदन में नहीं दिखी। विधानसभा में एसपी और कांग्रेस के विधायक बिजली की कीमतें बढ़ाए जाने के विरोध में नारेबाजी करते हुए वेल में पहुंच गए। विधान परिषद में विपक्षी विधायकों ने सभापति की पीठ की ओर कागज भी उछाले। इसके बाद दोनों सदनों की कार्यवाही शुक्रवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।विपक्ष की नारेबाजी के बीच संसदीय कार्यमंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि वह इन लोगों (विपक्षी सदस्यों) को एक राय देना चाहते हैं। उन्होंने कहा, आजकल बारातों का सीजन है। वहां इस तरह शोर मचाने वालों को पैसा दिया जाता है। जो शोर मचाने का अच्छा प्रदर्शन करते हैं, उन्हें अच्छा पैसा मिलता है। अध्यक्ष जी, इनकी बुकिंग भी वहीं करवा दी जाए।विधानसभा के वरिष्ठ सदस्य और एसपी नेता मोहम्मद आजम खां ने नारेबाजी में सपा सदस्यों का न सिर्फ साथ दिया, बल्कि वेल में जमीन पर बैठकर धरना भी दिया। सदन की कार्यवाही स्थगित होने के दौरान भी आजम साथियों के साथ वेल में बैठे रहे। हालांकि, अध्यक्ष ने कई बार वरिष्ठता की बात कहते हुए उनसे सीट पर जाने का अनुरोध किया।सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले ही सीएम सदन में पहुंचे और सभी दलों के नेताओं की सीट पर जाकर उनका अभिवादन किया। विपक्षी सदस्यों की नारेबाजी के बीच वह लगातार मुस्कुराते रहे। कई बार तो उन्होंने नारों पर हंसते हुए एसपी सदस्यों से चुटकी भी ली। सदन की कार्यवाही स्थगित होने पर जब सपा के एक विधायक ने मुस्लिम विरोधी यह सरकार नहीं चलेगी... नारा लगाया तो योगी जोर से हंसे और चले गए।

सत्ता कब्जाने के लिए बीजेपी कर रही शरारती कोशिशें : ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य के लोगों को बीजेपी के झांसे में नहीं आना चाहिए। साथ ही, उन्होंने दावा किया कि भगवा पार्टी शरारती कोशिशों के जरिए सत्ता कब्जाने का प्रयास कर रही है। ममता ने यहां बांकुडा जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी नेता और इसके कार्यकर्ता लोगों को जाति या धर्म के आधार पर बांटने के लिए झूठी अफवाहें फैला रहे हैं।उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल एक अलग स्थान है जहां सभी राज्यों, नस्ल, संस्कृति, धर्म और राजनीतिक मान्यताओं के लोग साथ में शांतिपूर्ण तरीके से रहते हैं तथा एक दूसरे के खिलाफ नफरत की कोई भावना नहीं रखते।उन्होंने कहा, 'बीजेपी पर यकीन मत करिए। वे शरारती कोशिशें कर सत्ता कब्जाने का प्रयास कर रहे हैं। हम दलित, अल्पसंख्यक या अन्य समुदायों में भेदभाव नहीं करते। बंगाल के श्रमिक अफराजुल को जिस तरह से जला कर मार डाला गया वह बंगाल में कभी नहीं हुआ। वह मालदा जिले का रहने वाला था।' बता दें, हाल ही में राजस्थान में उसे कथित तौर पर जला कर मार डाला गया।

नलकूपों में अब रीडिंग से वसूला जाएगा बिजली बिल : बांदा

गौरव द्विवेदी,(बांदा)। फिक्स चार्ज देकर मनमाने घंटों तक ट्यूबवेल चलाने के दिन अब खत्म होने वाले हैं। नलकूप धारक किसानों को अब खर्च यूनिट की रीडिंग के आधार पर बिल चुकाना होगा। एक हफ्ते के अंदर चित्रकूटधाम मंडल में सभी निजी नलकूपों में इलेक्ट्रानिक मीटर लगा दिए जाएंगे। पावर कारपोरेशन के मुख्य अभियंता ने यह आदेश जारी कर दिया है।नई व्यवस्था के तहत पांच से सात हार्स पावर के नलकूपों पर 5 रुपये 20 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली बिल वसूला जाएगा। मौजूदा में मात्र 100 रुपये प्रति हार्स पावर की दर से फिक्स चार्ज लिया जा रहा है। बिजली के बढ़े टैक्स की यह मार चित्रकूटधाम मंडल के लगभग 50 हजार निजी नलकूप लगाए किसानों पर पड़ेगी। कृषि विभाग के आंकड़ों के मुताबिक बांदा में 15,966, हमीरपुर में 18,622, चित्रकूट में 7,425 और महोबा में 6,964 निजी नलकूप हैं। राजकीय नलकूपों की संख्या पूरे मंडल में 1236 बताई गई है। मौजूदा में किसान लगभग तीन हजार रुपये प्रति माह नलकूप का बिजली बिल देते हैं लेकिन मीटर लगने के बाद यूनिट की दर के हिसाब से बिल लगभग 10 हजार रुपये के आसपास देना पड़ सकता है। बांदा पावर कारपोरेशन अधिशासी अभियंता एके सविता ने बताया कि मंडल के मुख्य अभियंता एके सक्सेना ने निर्देश जारी किए हैं कि सभी नलकूपों में सप्ताह भर के अंदर इलेट्रानिक्स मीटर लगा दिए जाएं। अब नलकूपों की बिलिंग रीडिंग के आधार पर होगी।